Close

किसानों को फायदा: कंपनियां ही किसानों से खरीद लेती हैं ककड़ी के बीज

बाराबंकी। ककड़ी के बीजों का उत्पादन करने वाले किसान आजकल काफी खुश हैं। वजह यह है कि किसानों को बीज बेचने के लिए इधर-उधर भटकना नहीं पड़ता। ककड़ी के उन्नत बीज की बुवाई से लेकर उसे दोबारा बाजार में भेजने तक, सब कुछ एक तयशुदा करार के तहत होता है। आसान शब्दों में कहें तो […]

Read More

दुनिया चांद पर चली गई, यहां लोग पातालकुम्हड़ा ही खोज रहे

आधी रात को टीवी शुरू करें तो गैर-कानूनी रूप से ऐसे उत्पादों का विज्ञापन दिखाई देता है जो कि सत्यता से कोसों दूर और जबरदस्त भटकाव लिए होता है। मोटापा, डायबिटीज, आर्थराइटिस कम करने, मर्दांगी और पौरुषत्व बढ़ाने वाले उत्पादों को खुलेआम बेचा जाता है। ना सिर्फ टी.वी बल्कि रेडियो, अखबारों, पत्र-पत्रिकाओं से लेकर मोबाइल […]

Read More

किसान इन बातों का रखें ध्यान नहीं तो टमाटर की फसल खा जाएंगे कीड़े

लखनऊ। टमाटर में इस समय फल पक रहे हैं। यह समय फसल सुरक्षा के हिसाब से बहुत अहम है क्योंकि इस समय लापरवाही का असर सीधे फसल उत्पादन और गुणवत्ता पर पड़ेगा। टमाटर की फसल में कीट और रोग की संभावना के चलते किसानों को सचेत रहना जरूरी है। कीट प्रबंध : सफेद लट : […]

Read More

यह खेती कभी धोखा नहीं देती..

  इस साल छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश के कई इलाक़े सूखे की मार झेल रहे हैं. मगर दोनों राज्यों में रहने वाले बैगा और पहाड़ी कोरवा आदिवासियों के माथे पर शिकन तक नहीं. ये आदिवासी सदियों से बेवर खेती करते रहे हैं. बेवर खेती यानी ज़मीन जोते बिना उसमें 56 तरह के पारंपरिक बीजों के सहारे […]

Read More

पारंपरिक खेती छोड़ सब्जियां उगा रहे किसान

बाराबंकी। उत्तर प्रदेश में बाराबंकी जिला मेंथा, धान, गेहूं के साथ-साथ कई तरह की खेती के लिए मशहूर है। यहां के किसान कई तरह से खेती में प्रयोग करते रहते हैं। इस वर्ष किसान मेंथा की खेती में नुकसान के कारण कई तरह की सब्जियों की खेती कर रहे हैं। जिला मुख्यालय से लगभग 40 […]

Read More

एल-नीनो – el nino

एल-नीनो(el nino) स्पैनिश भाषा का शब्द है जिसका शाब्दिक अर्थ है- शिशु यानी छोटा बालक। वैज्ञानिक अर्थ में, एल-नीनो प्रशांत महासागर के भूमध्यीय क्षेत्र की उस समुद्री घटना का नाम है जो दक्षिण अमेरिका के पश्चिमी तट पर स्थित इक्वाडोर और पेरु देशों के तटीय समुद्री जल में कुछ सालों के अंतराल पर घटित होती […]

Read More

स्काईमेट का यह अनुमान भारत के लिए चिंतित करने वाला है जानिए क्यूँ?

2017 के मॉनसून को लेकर पहला अनुमान सामने आ गया है। स्काईमेट ने इस बार कमजोर मॉनसून का अनुमान जताया है। इस बार मॉनसून में औसत (LPA) के 95 फीसदी ही बारिश का अनुमान है। लंबी अवधि का औसत जून से लेकर सितंबर तक चार महीने के दौरान हुई बारिश से निकाला जाता है। भारत […]

Read More

गाय का दूध अमृत के समान होता है

देसी गाय का दूध क्यों हैं अमृत समान। गाय का दूध पृथ्वी पर सर्वोत्तम आहार है। उसे मृत्युलोक का अमृत कहा गया है। मनुष्य की शक्ति एवं बल को बढ़ाने वाला गाय का दूध जैसा दूसरा कोई श्रेष्ठ पदार्थ इस त्रिलोकी में नहीं है। पंचामृत बनाने में इसका उपयोग होता है। गाय का दूध पीला होता […]

Read More

2000 किलो आलू की कीमत 1 रुपया

कहते हैं अनाज के बजाय सब्जी की खेती करना फायदेमंद होता है. इंदौर के किसान राजा चौधरी के लिए आलू की खेती करना बेहद घाटे का सौदा साबित हुआ. राजा चौधरी ने इंदौर के चोयथराम मंडी में 20 क्विंटल आलू बेचा था, जिसके दाम मिले 1075 रुपए. वहीं किसान को आलू मंडी में पहुंचाने में […]

Read More

टमाटर की वैज्ञानिक तरीके से खेती कैसे करें

टमाटर की वैज्ञानिक तरीके से खेती कैसे करें

यदि आप वैज्ञानिक तरीके से टमाटर की खेती करते है तो आप अच्छी कमाई भी कर सकते है साथ ही आपको फसल से जुड़ी बहुत सी विभिन्न समस्याओं से दो चार हाथ होने की भी जरुरत नहीं पड़ेगी। आज के युग में किसान वैज्ञानिक तरीकों का इस्तेमाल कर लाखों में कमा रहे है और अन्य […]

Read More